निर्भया कांडः सुप्रीम कोर्ट ने दोषियों को मौत की सजा बरकरार रखी

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने निर्भया के चारों गुनहगारों की फांसी की सजा बरकरार रखी है। कोर्ट ने पुलिस के सभी सबूतों को माना। सुप्रीम कोर्ट से पहले निचली अदालत और हाई कोर्ट ने दोषियों को फांसी की सज़ा दी थी। तीन जजों की बैंच ने 2 बजकर 3 मिनट पर फैसला सुनाना शुरु किया। निर्भया केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कोर्ट में तालियां बजीं।

फैसले पर निर्भया की मां ने कहा- मैं कोर्ट और सभी साथ देने वालों को ध्नयवाद देती हूं. मैं सिर्फ यह कह सकतीं हूं कि देर है लेकिन अंधेर नहीं है. इस तरह के अपराध अब ना हों। इस तरह के अपराधों के खिलाफ हम लड़ते रहेंगे। निर्भया के पिता ने कहा- निर्भया को न्याय पूरे समाज को न्याय है, हमें सुप्रीम कोर्ट से उम्मीद थी।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर कठोर सजा नहीं सुनायी जाएगी तो समाज में संदेश कैसे जाएगा। जस्टिस दीपक मिश्रा ने फैसला सुनाते हुए कहा- मैं और जस्टिस अशोक भूषण एक फैसले पर पहुंचे, जस्टिस भानुमति का फैसला अलग है। आपको बता दें सुप्रीम कोर्ट में बहुमत के फैसले को माना जाता है।   (इनपुटः एजेंसी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *