80 हजार करोड़ की संपत्ति के हैं मालिक, बचपन में तय हो गई थी इनकी शादी

यदुवीर कृष्णदत्त चामाराजा वाडियार और डूंगरपुर की राजकुमारी तृषिका कुमारी सिंह

मैसूर​/जयपुर। मैसूर के वाडियार परिवार के वारिस यदुवीर कृष्णदत्त चामाराजा वाडियार और डूंगरपुर की राजकुमारी तृषिका कुमारी सिंह आज भी रॉयल लाइफ जीते है। 80 हजार करोड़ की संपत्ति के मालिक मैसूर के राजा यदुवीर और राजकुमारी को अक्सर पूजा-पाठ करते हुए देखा गया है। खास बात है कि दोनों की शादी बचपन में तय हो गई थी लेकिन हुई दोनों के व्यस्क होने के बाद। ऐसी है मैसूर के राजा और रानी की लाइफ….

राजकुमारी तृषिका कुमारी सिंह
यदुवीर कृष्णदत्त चामाराजा वाडियार और डूंगरपुर की राजकुमारी तृषिका कुमारी सिंह

– मैसूर का दशहरा पूरे भारत में मशहूर है। यहां दशहरा के आयोजन की 500 साल पुरानी परम्परा है। विजयनगर साम्राज्‍य के पतन के बाद मैसूर के वाडयार राजाओं ने महानवमी (दशहरा) मनाने की परंपरा को जारी रखा।
– इस दौरान विशेष दरबार का आयोजन किया जाता था। कृष्‍णराज वाडयार तृतीय ने मैसूर पैलेस में विशेष दरबार लगाने की परंपरा शुरू की थीद्ध दिसंबर, 2013 में श्रीकांतदत्‍ता वाडयार की मृत्‍यु के बाद इस परंपरा को यदुवीर कृष्‍णदत्‍ता वाडयार आगे बढ़ा रहे हैं।
अब ऐसी है राजा और रानी की लाइफ

मैसूर के राजा यदुवीर चांदी के सिहासन में शहर के दौरे पर।

– बोस्टन में पढ़े-लिखे यदुवीर डूंगरपुर की राजकुमारी तृषिका कुमारी सिंह से शादी के बाद ज्यादातर सोशल इवेंट पर नजर आते है। इन दाेनों को अक्सर पूजा-पाठ करते हुए देखा गया है।
– मैसूर की नई रानी राज के साथ स्कूल और कॉलेज कार्यक्रमों के साथ ही आर्ट गैलरी की आेपनिंग में भी नजर आ चुकी हैं।
– वैसे मैसूर के इस शाही कपल को मंदिरों में भी अक्सर देखा जाता है।
– मैसूर का शाही परिवार पूरी दुनिया में अपने शाही अंदाज के लिए खासा जाना जाता है। मैसूर राजघराने का छ: सौ सालों से अधिक पुराना दशहरा सिर्फ़ भारत ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है। इस बार शादी के बाद इस शाही कपल ने मैसूर की इस परंपरा को अच्छे से निभाया।

राजा यदुवीर
मैसूर के राजा यदुवीर पूजा करते हुए।

बचपन में ही तय हो गई थी इनकी शादी
– यदुवीर मैसूर पैलेस के कल्याण मंडप में तृषिका कुमारी सिंह के साथ एक साल पहले परिणय सूत्र में बंधे थे।
– इनकी शादी बचपन में ही तय हो गई थी और बड़े होने के बाद दोनों ने लम्बी मुलाकातों के बाद शादी के बारे में तय किया। तृषिका ने बेंगलुरु के क्राइस्ट कॉलेज से पढ़ाई की है।
मैसूर के 27वें राजा हैं यदुवीर

राजा यदुवीर
मैसूर के राजा यदुवीर राजदरबार में।

– 24 साल के यदुवीर कृष्णदत्त वाडियार मैसूर के पूर्व राजपरिवार के 27वें राजा हैं।
– असल में दिसंबर 2013 में मैसूर के राजा श्रीकांतदत्त वडियार का निधन हो गया था।
– श्रीकांतदत्त की कोई संतान नहीं थी। ऐसे में फरवरी 2015 में उनकी पत्नी प्रमोददेवी ने यदुवीर को गोद लिया था।
– पूरी दुनिया में अपने महल और राजसी ठाठबाट के लिए राजस्थान के राजपरिवार के बाद मैसूर के राजपरिवारों की चर्चा रहती है।
– मैसूर के इस राजपरिवार के पास खासी संपत्ति है। एक अनुमान के अनुसार राजपरिवार के पास 80 हजार करोड़ रुपए की संपत्ति है।

 

 

मैसूर के राजा यदुवीर ।
मैसूर के राजा यदुवीर ।
मैसूर के राजा यदुवीर और रानी।
मैसूर के राजा यदुवीर और रानी।
मैसूर के राजा यदुवीर और रानी।
मैसूर के राजा यदुवीर और रानी।
तृषिका पूजा करते हुए।
तृषिका पूजा करते हुए।
तृषिका पूजा करते हुए।
तृषिका पूजा करते हुए।
मैसूर के राजा यदुवीर और रानी पूजा करते हुए।
मैसूर के राजा यदुवीर और रानी पूजा करते हुए।
मैसूर के राजा यदुवीर ।
मैसूर के राजा यदुवीर ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *